Audeliver demo podcast: Sang Hoon Tere..Tujhe Sochta Hoon Mai sham o subeh ..by Avinash K

Sang Hoon Tere..Tujhe Sochta Hoon Mai sham o subeh ..by Avinash K

Published on Tue, 12 Mar 2019 16:41:35

तुझे सोचता हूँ मैं शाम ओ सुबह इस से ज्यादा तुझे और चाहूं तो क्या तेरे ही ख्यालों में डूबा रहा इस से ज्यादा तुझे और चाहूं तो क्या.. बस सारे ग़म में जाना , संग हूँ तेरे हर एक मौसम में जाना , संग हूँ तेरे संग हूँ तेरे संग हूँ तेरे मेरी धडकनों में ही तेरी सदा इस क़दर तू मेरी रूह में बस गया तेरी यादों से कब रहा मैं जुदा वक़्त से पूछ ले , वक़्त मेरा गवाह बस सारे ग़म में जाना , संग हूँ तेरे हर एक मौसम में जाना , संग हूँ तेरे अब इतने इम्तेहा भी ना ले मेरे !!!


download MP3 duration 0:02:47, size 2.55 MB